Tooltip

सारी जिंदगी बस इसी ग़लतफहमी में गुजारतें रहे !! प्यार दिलों से होता था और हम शक्ल संवारते रहे !!

Tooltip

उसके चेहरे की चमक के सामने सादा लगा !! आसमां पे चांद पूरा था लेकिन आधा लगा !!

Tooltip

जो मैं रूठ जाऊं तो तुम मना लेना !! कुछ न कहना बस सीने से  लगा लेना !!

Tooltip

मालूम है हमारे प्यार को गवाहों की जरूरत नहीं !! मगर अच्छा लगता है तुम्हें यूँ मुकम्मल प्यार करना !!

Tooltip

हर पत्नी, अपने पति के साथ करवा चौथ मनाएं !! दोनों का प्यार दुगना हो जाए, यहीं है मेरी शुभकामनाएं !!

Tooltip

जिनका चाँद सरहद पर खड़ा होकर !! दूसरी महिलाओं के चाँद की  हिफ़ाजत कर रहा है !!

Tooltip

स्वप्न में भी आपकी ये जोड़ी कभी न टूटे !! प्रार्थना यही है एकदूजे से  आप कभी न रूठे !!

Tooltip

चांद मे दिखती है मुझे मेरे पिया की सूरत !! चांद संग चांदनी सी है मुझे भी उनकी ज़रूरत !!

Tooltip

ग़ालिब ने खूब कहा है ऐ चाँद तू किस मजहब !! का है ईद भी तेरी और करवाचौथ भी तेरा !!

Tooltip

सारी जिंदगी बस इसी ग़लतफहमी में गुजारतें रहे !! प्यार दिलों से होता था और हम शक्ल संवारते रहे !!